तुम

तुम मुझे आशा देते हो

और मुझे सामना करने की हिम्मत

जब जीवन मुझे नीचे खींचता है

तुम मुझे संभाल लेते हो ।।

तुम मुझे देखभाल करना सिखाते हो

और साझा करने में मेरी मदद

मुझे ईमानदार बनाने में मददगार हो

दयालू और नम्र बनाते हो ।।

तुमसे प्यार सीखा

ऊपर से अनुग्रह केसाथ

मुझे अपनाते हो

दुख हो या सुख मुझे जीना सिखाते हो ।। “निवेदिता”

18 responses to “तुम”

  1. बहूत खूब लिखती हो ‘तुम’ सच्चाई को बड़े ही सच्चे शब्दों में उतारा है अपने इस उम्र में काफी कम लोग इस बात को समझ पाते हैं l यह ‘तुम’ का आशीर्वाद है और अपकी उसके प्रति श्रद्धा भगवान अपको खूब शक्ति दे क्यूकी सच की राह पर चलना बड़ा ही कठिन है पर उतना ही सुखदाई भी इसलिए मेरी बच्ची सदा ही खुश रहो और एसे ही खुशिया बाटति चलो 🙌🙏🙏

    Liked by 1 person

    1. भैया आपके इन शब्दों को पढ़कर मैं वाक़ई गद गद हो गई हूँ 🙏 धन्यवाद शब्द बहुत ही छोटा होगा आप यूँ ही आशीर्वाद और अपना स्नेह बनाए रखें 🙏 आपके post का इंतज़ार कर रही हूँ ☺️

      Liked by 2 people

      1. जी ज़रुर कोशिश करेंगे आज रात को लिखे, अपसे सीख रहे हैं तो कुछ तो लिख ही लेंगे🙏🙏

        Like

  2. Zindigi me aur kya chahiye

    Liked by 1 person

    1. ek cup chay ka pyala aur …

      Liked by 1 person

      1. Aur….. Saath me ….

        Liked by 1 person

        1. Aur sathme meri Kavita ka sheershak 🙂

          Liked by 1 person

          1. Wah!! Bilkul. Aapki kavita sun ne ka anubhav lajawab hain

            1. ☺️ aur apke tareef karne ka Andaaz 🙏

              Liked by 1 person

              1. Jab koi baat dil KO choo jaati hain. Tareef bhi dil se nikalti hain dear

                Like

  3. Apne Kanha ke liye ati uttam prastuti hai aapki! Simply superb.

    Liked by 1 person

  4. Hello ! Good one !
    But who is this तुम ??? My Face Book Friend : Mr Pawan ?

    Liked by 1 person

    1. Tum is my Krishna , my Lord my Swami .. Kavi ki Kavita ..

      Like

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: