ज़िंदगी

कुछ अनकही ख्वाहिशों का सिलसिला है ज़िंदगी ,

मंज़िलों से मुसलसल फासला है ज़िंदगी …..

कुछ तुझे पाने का कुछ खोने का नाम है ज़िंदगी ,
वस्ल ए  यार  का एहतेराम है ज़िन्दगी …..
कुछ बीते हुए लम्हों का हिसाब है ज़िंदगी ,
हँसते हँसते जीने का फलसफा है ज़िंदगी ….

DSC07151 copy

कुछ उफनते हुए लहरों का भाव है ज़िंदगी ,
सूनी इमारतों में गूँजती ग़म ए दास्तान है ज़िंदगी …
कुछ फटे हुए पन्नों की किताब है ज़िंदगी ,
फ़टी जिल्द से झलकती तेरी तस्वीर है ज़िंदगी …
 
कुछ तेरी कुछ मेरी कुछ हमारी है ज़िंदगी ,

इश्क़ के रंगों में सराबोर खुशनसीब है ज़िंदगी। … “निवेदिता ”

#Life without you is difficult but moments spent with you were the moments I lived my Life . Though , I we are not along today  my love but I am sure you must be missing me as  I do .  I cherish the memoirs which brings the feel of sacrement and eternity.
Sometimes we loose something  to find something precious I wish you find the one very precious and remember me only in happiness . My #Life Without You is like Body without soul and heart . I love you and will always keep loving …<3<3
Advertisements

11 thoughts on “ज़िंदगी

  1. वाह वाह क्या कहने, उर्दू में भी महारथ हासिल है 👏👏👏
    सुकून सा मिलता है आपके शब्दों को पढ़ के।

    Liked by 1 person

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s